डाइमंड लीग में जीतने वाले पहले भारतीय बने नीरज चोपड़ा

0
neeraj chopra

भारत के गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा को चोटिल होने के कारण राष्ट्रमंडल खेल 2022 में भाग लेने से चुकने का बाद भी अपने प्रदर्शन को बरक़रार रखते हुए लूसानें में हो रहे आयोजित डाइमंड लीग में मेंस जेवलिन थ्रो में 89.08 मीटर भाला भेककर गोल्ड अपने नाम करते हुए इतिहास रच दिया हैं।

Neeraj Chopra in the action at daimond league
नीरज चोपड़ा (लूसानें डाइमंड लीग में जेवलिन थ्रो के दौरान)

भारत के ओलिंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा ने फिर से एक बार इतिहास रच दिया हैं। 24 वर्षीय नीरज ने लुसानें में चल रहे डाइमंड लीग में गोल्ड मैडल जीत कर डाइमंड लीग में जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं। नीरज चोपड़ा ने अपने पहले ही थ्रो में 89.08 मीटर भाला भेक कर गोल्ड मैडल के दावेदार बन गए थे। उन्होंने दूसरे थ्रो में 85.20 मीटर भाला भेका था उसके बाद तीसरा थ्रो के प्रयास से चूक गए थे चौथा थ्रो फॉल गया और उसके बाद उन्होंने अपने पांचवे प्रयास को फिर से छोड़ दिया उसके बाद अपने अंतिम थ्रो में वापसी करते हुए 80.04 मीटर का थ्रो लगाया।

नीरज चोपड़ा ने वर्ल्ड चैंपियनशिप में रजत पदक जीता था उस टूर्नामेंट के दौरान नीरज को कुछ इंजरी हो गई जिसके बाद उन्हें एक महीने का रेस्ट दिया गया था जिसके कारण ही वो बिर्मिंघम में आयोजित कामनवेल्थ गेम्स 2022 में भाग नहीं ले सके। जिससे उनके चाहने वाले उदास थे लेकिन इंजरी के रिकवरी करते ही नीरज चोपड़ा ने लुसानें में आयोजित डाइमंड लीग में भाग लिया और भारत लिए गोल्ड मैडल जीता जिससे उनके चाहने वालो में ख़ुशी की लहर वापस आ गई हैं।
इसी के साथ नीरज चोपड़ा भारत के इकलौते खिलाडी बन गए हैं जिन्होंने डाइमंड लीग में गोल्ड जीता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *